Author: admin

sdvsv 0

sdvsv

14.8.5 व्यावसायिक शिक्षा आयोग ने व्यावसायिक शिक्षा के अग्रलिखित अंगों के माध्यम से करने के बाद सुझाव दिए(अ) कृषि (ब) वाणिज्य (स) शिक्षा (द) इन्जीनियरिंग और तकनीकी (य) कानून (र) चिकित्सा (ल) औद्योगिक सम्बन्ध...

sdvsdv 0

sdvsdv

5. शिक्षा का माध्यम मातृभाषा है, पर राष्ट्रभाषा हिन्दी का अध्ययन सब छात्र, छात्राओं केलिए अनिवार्य है । 6. पाठ्यक्रम का स्तर वर्तमान मैट्रिक के समान है ।7. पाठ्यक्रम में अग्रेजी और धर्म का...

sdvsdv 0

sdvsdv

एक शिक्षण विश्वविद्यालय का निर्माण हो जाय । 3. नगर के आस-पास के कॉलेजों का संगठन ऐसे ढंग से किया जाय कि धीरे-धीरे कुछस्थानों पर नए विश्वविद्यालयों की स्थापना हो जाय ।।निष्कर्षत: आयोग ने...

cvsdv 0

cvsdv

4) विश्वासएकात्मक विश्वविद्यालय उपयोगी है, पर सम्बन्धन करने वाले विश्वविद्यालयों की में आवश्यकता है । अत: दोनो प्रकार के विश्वविद्यालयों को प्रोत्साहित किया जाए । विश्वविद्यालय शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने के साथ-साथ...

fvbsdv 0

fvbsdv

धर्मों के आधारभूत सिद्धान्तों का समावेश किया जायें । 6. महाविद्यालय के प्राचार्य एवं प्राध्यापकों द्वारा व्याख्यान माला का आयोजन किया जायजिसमें छात्रों को मानव धर्म एवं नागरिक कर्तव्य बताये जाये । 7. महाविद्यालयों...

fbdv 0

fbdv

देशी व अंग्रेजी भाषा के उपयोग पर विचार करते हुए वुड के घोषणा पत्र (Wood’s Despatch) में शिक्षा के माध्यम के सम्बन्ध में कहा गया कि –“अंग्रेजी भाषा को वही पढ़ाया जायेगा, जहाँ उसकी...

erbeb 0

erbeb

| विचारणीय है कि स्वतंत्र भारत के आर्थिक विकास का अधिकांश भाग बिचौलियों दलालों, प्रशासकों, राजनेताओं के हाथ में चला गया है । राष्ट्रीय विकास के साथ असमानता में वृद्धि हुई है प्रशासनिक शिथिलता...

hggfb 0

hggfb

कुरान स्कूल – इनमें धार्मिक शिक्षा प्रदान की जाती थी, यहाँ केवल कुरान शरीफ की पढ़ाई ही करवाई जाती थी । फारसी स्कूल – ये उच्च शिक्षा के केन्द्र थे, इनमें मुख्यालय से फारसी...

sadfg 0

sadfg

और सदैव नये-नये अनुभव प्राप्त करते रहते हैं । समाज के सदस्य तो समाप्त होते रहते हैं लेकिन उनकी शिक्षा की प्रक्रिया पीढ़ी दर पीढ़ी चलती रहती है । शिक्षा वि-ध्रुवीय प्रक्रिया है :-...